Friday, 6 December 2019

SSC GK: Vitamin (विटामिन) Types, Sources and Diseases caused by deficiency

विटामिन क्या होता है और इसके कितने प्रकार होते है Trick : विटामिन A, B, C, D, E, K के रासायनिक नाम

itamin-विटामिन-Types-Sources-Diseases


आज के इस विटामिन टॉपिक पर हम बात करेंगे की विटामिन क्या होता है और इसके कितने प्रकार होते है और अंत में ट्रिक भी समझेंगे तो सबसे पहले बात करते है की विटामिन क्या होता है ।
विटामिन (Vitamin) ऐसे कार्बनिक Compound है जो हमारे शरीर के Metabolism के लिए बहुत ही आवश्यक है। जो शरीर खुद से शारीर नही बना सकता बल्कि भोजन के रूप में लेना आवश्यक होता  है।



विटामिन (Vitamin) दो प्रकार के होते है -

1. Water Soluble (जल में घुलनशील विटामिन ) :- 

जल में घुलनशील विटामिन जैसे की  Vitamin B, Vitamin C, Water Soluble Vitamin Store नहीं किये जा सकते। यह हमारे शरीर में ज्यादा देर तक नहीं रहते।


2. Fat Soluble (वासा में घुलनशील विटामिन ) :- 

वासा में घुलनशील विटामिन  Vitamin A, Vitamin D, Vitamin E, Vitamin K, Fat Soluble हमारे शरीर में आसानी से Store किये जा सकते है। यह Fatty Tissues में Store होते हैं। Fat Soluble Vitamin  हमारे शरीर के अंदर बहुत दिनों तक ये महीनो तक भी रह सकते है। 

हमारे शारीर में 13 प्रकार के Vitamin की जरुर होती है ।


Vitamin A (विटामिन ए) :- 

Vitamin A (विटामिन ए) का रासायनिक नाम रेटिनॉल (Retinol) है जो Water Soluble (जल में घुलनशील  ) विटामिन है।  इसे antixerophthalmic विटामिन भी कहते है अर्थात यह जीरॉफ्थैलमिया नामक रोग को दूर करने में सहायता करता है।
मुख्य काम - हमारी मांसपेशियाँ और हड्डी को मज़बूती तथा ताकत देना है। ये खून में कैल्शियम का संतुलन बनाये रखता है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - आँखों के रोग (रतौधी Night Blindness) 
मुख्य स्रोत - दूध, अंडा, पनीर और सब्ज़ियां । ये हमारे बालो को भी स्वस्थ रखता है।

यह विटामिन शरीर में अनेक अंगों को सामान्य रूप में बनाये रखने में मदद करता है जैसे कि त्वचा, बाल, नाखून, ग्रंथि, दाँत, मसूड़ा और हड्डी। 


Vitamin B को कई प्रकार में हम बांट सकते हैं जैसे Vitamin B1, B2, B3, B5, B6, B7, B9, B12

विटामिन बी शरीर को जीवन शक्ति देने के लिए अति आवश्यक होता है। इस विटामिन की कमी से शरीर अनेक रोगो का घर बन जाता है। यह विटामिन जल में घुलनशील होता है।

Vitamin B1 :- 

Vitamin B1 का रासायनिक नाम (Chemical Name) थाइमिन  (Thaimine) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - हमारी मस्तिष्क को विकसित रखने के लिए बहुत ही उपयोगी है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - बेरीबेरी के रोग 
मुख्य स्रोत - सूरजमुखी के बीज, अनाज, आलू, संतरे और अंडे।

Vitamin B2:- 

Vitamin B2 का रासायनिक नाम (Chemical Name) राइबोफ्लेविन (Riboflavin) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - त्वचा को अच्छी रखने के लिए बहुत ही उपयोगी है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - त्वचा का फटना , आँख का लाल होना, जीभ का फटना  
मुख्य स्रोत - केला, दूध, दही, मास, अंडे, हरी बीन्स और मछली।

Vitamin B3:- 

Vitamin B3 का रासायनिक नाम (Chemical Name) नियासिन (Niacin) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - Blood pressure को Control में रखने और सिरदर्द, दस्त को कम करती है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - बाल सफेद होना, मंद बुद्धि होना 
मुख्य स्रोत - खजूर, दूध, अंडे, टमाटर, गाजर, मूंगफली, गन्ना ।

Vitamin B5:- 

Vitamin B5 का रासायनिक नाम (Chemical Name) पैंटोथेनिक एसिड (Pantothenic acid) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - बालो को स्वस्थ और सफेद होने से बचाता है। इससे तनाव भी कम होता है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - पेलाग्रा और 4-D-सिंड्रोम 
मुख्य स्रोत - मांस, मूंगफली, आलू, टमाटर और पतीदार सब्जियाँ ।

Vitamin B6:- 

Vitamin B6 का रासायनिक नाम (Chemical Name) प्यरीडॉक्सीने (Pyridoxine) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - यह सुबह की थकान कम करता है। तनाव और अनिद्रा से भी मुक्ति देता है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - अनीमिया, त्वचा रोग
मुख्य स्रोत - मांस, अनाज, केले, सब्जियां।

Vitamin B7:- 

Vitamin B7 का रासायनिक नाम (Chemical Name) बायोटिन (Biotin) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - यह त्वचा और बालो के लिए बहुत ही अच्छा है। इसकी कमी से हमे जिल्द की सूजन(dermatitis) हो सकती है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - लकवा, शारीर में दर्द, बालों का गिरना 
मुख्य स्रोत - मांस, दूध, अंडे की जर्दी (Egg yolk), सब्जियां।

Vitamin B9:- 

Vitamin B9 का रासायनिक नाम (Chemical Name) फोलिक एसिड (Folic acid) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - यह त्वचा के लोग और गठिया के उपचार हेतु बहुत ही शक्तिशाली है। गर्भवती महिलाओं को यह लेने ही सलाह दी जाती है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - अनीमिया, पेचिश रोग 
मुख्य स्रोत - दाल, सब्जियाँ, सूरजमुखी के बीज, फलो में भी यह होता है।

Vitamin B12:- 

Vitamin B12 का रासायनिक नाम (Chemical Name) सायनोसोबलमीन (Cyanocobalamin) है  जों जल में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - यह एनीमिया (खून की कमी), मुँह में अलसर जैसी बिमारियों को कम करता है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - अनीमिया, पंडूरोग
मुख्य स्रोत - मांस, कलेजी, दूध और दूध से बनाये गए उत्पाद, अंडा  


Vitamin C:- 

Vitamin C का रासायनिक नाम (Chemical Name) एस्कॉर्बिक एसिड (Ascorbic acid) है  जों जल में घुलनशील होता है। 
मुख्य काम - यह हमारी त्वचा और हड्डियों के लिए बहुत ही आवश्यक है। । यह किसी घाव को ठीक करने में बहुत ही ज्यादा मदद करता है। यह शरीर की कोशिकाओं को बांध के रखता है। इससे शरीर के विभिन्न अंगों को आकार बनाने में मदद मिलता है। यह शरीर के ब्लड वेस्सल या खून की नसों (रक्त वाहिकाओं, blood vessels) को मजबूत बनाता है। इसके एंटीहिस्टामीन गुणवत्ता के कारण, यह सामान्य सर्दी-जुकाम में दवा का काम कर सकता है। 
Vitamin C कमी से होने वाले रोग - स्कर्वी, मसूड़े का फूलना 
मुख्य स्रोत - निम्बू, संतरा, नारंगी, टमाटर, खट्टे पदार्थ 

Vitamin D:- 

Vitamin D का रासायनिक नाम (Chemical Name) केल्सिफेरोल (calciferol) है  जों वसा (Fat) में घुलनशील होता है। विटामिन डी के अन्य नाम हैं – विटामिन डी2 या एर्गोकैल्सिफेरॉल (Vitamin D2 or Ergocalciferol)
विटामिन डी3 या कोलेकेल्सिफेरोल (Vitamin D3 or Cholecalciferol) 
मुख्य काम - हमारे शरीर में कैल्शियम अब्सॉर्ब करने में बहुत ही मदद करता है तथा Immune system को मज़बूत करने में भी मदद करता है, दांतो की सड़न को कम करता है। यह शरीर की हड्डीयों को बनाने और संभाल कर रखने में मदद करता है।
Vitamin D कमी से होने वाले रोग - सूखा रोग (Rickets), इससे ब्लड प्रेशर या रक्तचाप बढ सकता है, खून में कोलेस्ट्रोल अधिक हो सकता है और दिल पर असर पर सकता है। साथ ही चक्कर आना, कमजोरी लगना और सिरदर्द हो सकता है।
Note :- Vitamin D बनाने का काम सूर्य के प्रकाश में उपस्थित पैराबैगनी किरणों द्वारा त्वचा के कोलेस्ट्रॉल द्वारा होता है
Vitamin D का मुख्य स्रोत - सूर्य के प्रकाश, दूध, अंडे की जर्दी ( पीला भाग egg yolk), मछली के तेल, विटामिन डी युक्त दूध और बटर इसके अच्छे स्रोत हैं

Vitamin E :- 

Vitamin E का रासायनिक नाम (Chemical Name) टेकोफेरोल्स (Tocopherols) है  जों वसा (Fat) में घुलनशील होता है। विटामिन ई, खून में रेड बल्ड सेल या लाल रक्त कोशिका (Red Blood Cell) को बनाने के काम आता है। यह शरीर को ऑक्सिजन के एक नुकसानदायक रूप से बचाता है, जिसे ऑक्सिजन रेडिकल्स (oxygen radicals) कहते हैं। इस गुण को एंटीओक्सिडेंट (anti-oxidants) कहा जाता है।
मुख्य काम -  हमारी Immune system को मज़बूत बनाता है। 
इसकी कमी से होने वाले रोग - जनन शक्ति का कम होना 
मुख्य स्रोत - बनस्पति तेल, आनाज, बादाम, अंडा, दूध
Note :- जिन लोगो को किसी प्रकार के लीवर रोग होते है उनको यह ज्यादा लेने के लिए कहा जाता है।

Vitamin K:- 

Vitamin K का रासायनिक नाम (Chemical Name) फीलोक्विनोने (Phylloquinone) है  जों वसा (Fat) में घुलनशील होता है।
मुख्य काम - यह स्वस्थ हड्डियों और ऊतकों के लिए प्रोटीन बनाकर हमारे शरीर की मदद करता है।
इसकी कमी से होने वाले रोग - रक्त का थक्का बनना 
मुख्य स्रोत - टमाटर, हरी सब्जियाँ

TRICKS विटामिन्स : रोग और रासायनिक नाम याद करने के लिए


चुटकी में करे सारे Vitamins के रासायनिक नाम , उनसे होने वाले रोग और पाए जाने वाला स्रोत Remember all vitamins chemical name ,disease and source in few second best trick .
Such type of questions asked in various exams like SSC CGL, Banking, IBPS, SBI PO, Railways, UPSC,  State PSC , State SSC exams.

Chemical Name of Vitamin A, B, C, D, E, K


Trick - रथ एक टॉफी

 Vitamin-विटामिन-Types-Sources

Chemical Name of Vitamin B 


Trick - थोरा न्यू पैंट पर बसा

















No comments:

Post a Comment