Thursday, 12 December 2019

Cell structure (human cell) । कोशिका संरचना। Cell Definition, Structure, Types, Functions

Cell Structure(कोशिका  संरचना) and Function

Cell-structure

SSC CAMPUS पर आपका स्वागत है  आज की इस आर्टिकल  में हम डिस्कस करने जा रहे हैं बायोलॉजी का एक बहुत ही Important topic cell structure के बारे में बताने जा रहे है जैसे कि हम जानते हैं कि किसी भी बॉडी को, मॉलिक्यूलर लेवल तक समझने के लिए, सेल स्ट्रक्चर को जाना बहुत ही जरूरी है इसलिए ये टॉपिक बहुत ही महत्वपूर्ण है

Cell क्या होता है (What is cell)


Cell किसी भी जीव का सबसे छोटा इकाई होता है cell की खोज रॉबर्ट हूक ने 1665 ई० में किया। 1839 ई० में श्लाइडेन तथा श्वान ने कोशिका सिद्धान्त cell theory को represent किया जिसके अनुसार जितने भी सारे जीव होते है उनका शरीर एक या उससे अधिक cells से मिलकर बना होता है सभी cell की उत्पत्ति पहले से present किसी cell से ही होती है।


Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं !

Important fact about Cell

  • Cell के अध्ययन को  Cytology कहते हैं ।  
  • Tissue के अध्ययन को Histology कहते हैं ।  
  • Cytology के जनक Robert hooke है Robert hooke ने 1665 में Micrographia Book में Cell का जिक्र किया लेकिन जो Cell theory है वो Scleiden (1838) and schwann(1839) के द्वारा दिया गया ।  

अन्य महत्वपूर्ण Topic
जितने भी TYPE के कोशिका होते हैं उनमें तीन चीज कॉमन होता है ।
  1. सबका अपना एक cell Membrane होता है ।
  2. साइटोप्लाज्म होता है ।
  3. DNA होता है ।

1. Cell Membrane :- Cell Membrane को  प्लाज्मा Membrane भी कहा जाता है cell membrane, अर्ध-पारगम्य झिल्ली (semi-permeable membrane) होता है जो लिपिड और प्रोटीन के bilayer से बना होता है | इसका मुख्य कार्य कोशिका के अंदर जाने वाले तथा अंदर से बाहर आने वाले पदार्थो का निर्धारण करना है। 

2. Cytoplasm :-
Cytoplasm, Cell में Nucleus तथा Cell Membrane के बीच रहता है।
यह Jelly like fluid होता है जिसमे organelles तैरते रहते है। 

3. Nucleus (DNA) :-
Nucleus में DNA होता है जो cell genetic material होता है । Nucleus को cell का 'मस्तिष्क' कहा जाता है। जिस प्रकार हमारा brain हमारे body को control करता है ठीक उसी प्रकार cell को nucleus, control  करता है।

Cell को दो  Part में divide कर सकते है -
                          1. Eukaryotic cell
                           2. Prokaryotic cell




1. Eukaryotic cell

Eukaryotic cell मे organells होते है जैसे nucleus और other special part होता है |  Eukaryotic cell, advance  तथा  complex cell का बना होता है,  जिसके  Nucleus में  DNA,  व हिस्टोन प्रोटीन  के  Combine होने से बनी क्रोमेटिन तथा इसके अलावा केंद्रिका  (Nucleolus) होते है  जो plant तथा animal cell में पाया जाते है। 

2. Prokaryotic cell

Prokaryotic cell के पास nucleus नही होता है और न ही organelles होते है Prokaryotic cell  में हिस्टोन प्रोटीन भी नही होता है जिसके कारण क्रोमेटिन नही बन पाता है | केवल genetic material होता है – मतलब DNA जो Unicellular organism होता है ।  
जैसे की बैक्टीरिया, जीवाणु और नीले हरे शैवाल  

अब हम बात करते है organelles के बारे में -
Organelles का मतलब होता है “cell का little organ” organelles, Cell में  Nucleus तथा Cell Membrane के बीच तैरते रहते है।
  1. Endoplasmic Reticulum (अंतर्द्रव्यी जालिका )
  2. Golgi Apparatus (गाल्गी उपकरण) :- (Traffic police of cell)
  3. Lysosomes (लाईसोसोम) :- (Suicide bag of cell)
  4. Mitochondria (माइटोकांड्रिया) :- (Power house of the cell)
  5. Plastids
  6. Vacuoles (रसधानिया) 

Nucleus (Nucleus of cell)


Nucleus को सबसे पहले रोबर्ट ब्राउन ने 1831 में खोजा | 
Nucleus, एक तरह से cell का Brain होता है | इसमें DNA तथा जेनेटिक material होता है | 
एक cell  में सामान्यतः एक ही nucleus होता है लेकिन कभी कभी एक से अधिक nucleus पाए जाते है सभी organelles की तरह ये भी cytoplasm में तैरता है | 
Nucleoplasm में धागेनुमा (thread like structure) होता है जो जाल के रूप में बिखरा दिखाई पड़ता है इसे chromatin कहते है | यह प्रोटीन तथा DNA का बना होता है जैसे ही cell divide होता है  विभाजन के समय क्रोमेटिन सिकुड़कर अपने अनेक मोटे और छोटे धागे के रूप में संगठित हो जाते हैं इन धागों को गुणसूत्र (Chromosomes) कहते हैं। 

न्यूक्लियस के अंदर न्यूक्लियोलस होता है जो न्यूक्लियस का सेंटर होता है जिसमे Ribosomes बनते है Ribosome का मुख्य कार्य  ‘Protein’ को बनाना होता है। इसलिए इसे ‘प्रोटीन की फैक्ट्री’ भी कहा जाता है।
राइबोसोम की खोज 1950 में रोमानिया के जीववैज्ञानिक जॉर्ज पेलेड ने की थी। 
न्यूक्लियस के ऊपरी परत पर छोटे-छोटे होल होते हैं जिसके सहारे राइबोसोमस बाहर निकलते हैं उसे न्यूक्लियस pore बोलते हैं जैसे ही Ribosomes, nucleus से बहार निकलता है तो इसके पास एक स्पेशल काम होता है। ‘Protein’ को बनाना। 

Nucleus के बाहर, Ribosomes और cell के other organelles, cytoplasm में तैरते है  जो jelly like substance होता है  ribosomes, cytoplasm में freely move करता है और Endoplasmic Reticulum में attach होता जाता है जिसको short form में ER कहते है यहाँ पर Endoplasmic Reticulum, Means ER दो प्रकार के होते है। 

1. Rough Endoplasmic Reticulum(rER) जिसमे Ribosomes attached होते है। 
2. Smooth Endoplasmic Reticulum(sER) जिसमे Ribosomes attached नही होते है। 

Endoplasmic Reticulum :-

Endoplasmic Reticulum का जो  membrane होता है  वो ribosomes द्वारा जो भी  proteins बनता है उसको एक जगह से दूसरी जगह transport करने का काम करता है जिसमे protein तथा दुसरे  material, Endoplasmic Reticulum से छोटे छोटे  vesicles के रूप में emerged होते  है (बाहर निकलते है) 

गोल्गी बॉडी (Golgi body):- 

 Endoplasmic Reticulum से निकले छोटे छोटे  vesicles को, गोल्गी apparatus जिसको गोल्गी body भी कहते है प्रोटीन के साथ receive करता है जैसे ही गोल्गी body प्रोटीन को receive करता है ये costomise form में हो जाता है जिसे cell use करते है। 
गोल्गी body ऐसा इसलिए कर पाता है क्युकी प्रोटीन, use करने लायक shape में convert हो जाता है तथा साथ ही साथ दुसरे material जैसे की lipid or carbohydrate को प्रोटीन में add करता है गोल्गी बॉडी का नाम इसके खोजकर्ता कैमिलो गोल्गी, के नाम पर पड़ा है। 


4 comments:

  1. आपने बहुत ही अच्छी तरह से एक्सप्लेन किया उसके लिए धन्यवाद

    ReplyDelete